Sunday, 13 May 2018

Mother's Day Special - A Great Poem Dedicated To All Mother | Happy Mother's Day


पहली धड़कन भी मेरी,
धरकी की तेरी भीतर जमीन को छोड़कर, बता में जाउ कहा।
आंखें खोली जब पहली दफा, तेरा चेहरा ही दिख,
ज़िंदगी का हर लम्हा, जीना तुझसे ही सीखा।

ख़ामोश सी मेरी जुबान को, सुर भी तूने ही दिया,
स्वेत परी मेरी अभिलाषाओं को, रंगो से तूने भर दिया।

अपना निराला छोड़ कर, मेरे खातिर तूने भंडार भरे,
मैं भले नाकामयाब रहा, फिर भी मेरे होने का तूने अहंगकार भरा।

वोह रात को छिपकर, जब तू अंधेरे मे अकेले रोया करती थी,
दर्द होता था मुझे भी, सिसिकिया मैंने भी सुनी थी।
नासमझ था मैं, जब इतनी खुद का भी मुझे भान नहीं था,
तू ही बस वह एक थी, जिसे मेरी भूक प्यास का पता था।

पहले जब मैं बेतहाश धूल मे खेला करता था,
तेरी चुरिया, तेरी पायल की आवाज़ से डर लगता था,
लगता था, तू आएगी बहुत डातेगी और कान पकड़ कर मुझे ल जाएगी।

मां आज भी, जब किसी दिन मुझे धुंध धुंध सा लगता है,
चुरिया के बीच से,
तेरी उरते गुस्से भरी आवाज़ को सुनने का मन करता है,
मन करता है, तू आ जाए, 
बहुत डाटे और कान पकड़ कर मुझे ल जाए।

जाना चाहता हु, उस बच्चपन में फिर से,
जहा तेरी गोद मे सोया करता था,
जब काम ना हो कोई मेरे मन्न को, तो हर बात पर रोया करता था।

दोस्तो आज मदर्स डे है। यह दिन बच्चो के जीवन में सबसे ज्यादा मह्वपूर्ण इंसान मां को समर्पित है। भले ही यह दिन भी, अन्य दिनों की तरह विदेशी संस्कारसं की ही देन है। पर हम भी इसे मानते हैं और आशा करूंगा सभी लोग भी इस दिन को बाकी दिवस के तरह मनाएंगे।

दोस्तो मां एक ऐसा शब्द है, जो किसी भी व्यक्ति के जीवन में सबसे ज्यादा अहमियत रखता है। ईश्वर सभी जगह उपस्थित नहीं रह सकता, इसलिए उसने धरती पर मां का स्वरूप बिक्षित किया है। जो हर परेशानी और हर मुश्किल घड़ी में अपने बच्चो का साथ देती है, उन्हें दुनिया के हर ग़म से बचाती है। बच्चा जब जन्म लेता है, तो सबसे पहले वोह मां बोलना सीखता है। मां के रूप में, बच्चे को निस्वार्थ प्रेम और त्याग की प्राप्ती होती है, तो वही मां बनना किसी भी महिला को पूर्णता प्रदान करती है।

" मां तेरी दूध का कर्ज, मुझसे कभी अदा नहीं होगा,
अगर कभी रही तू नाराज़, तो खूस वोह ख़ुदा मुझसे क्या होगा।"

" ख़ुदा का दूसरा रूप है मां, ममता की गहरी झील है मां,
वह घर किसी जन्नत से कम नहीं, जिस घर में ख़ुदा की तरह पुजी जाती है मां।"

No comments:

Post a Comment